केंद्रीय कर्मचारियों को दिवाली गिफ्ट: कैबिनेट बैठक में 3% DA बढ़ाने का ऐलान, एक करोड़ से ज्यादा कर्मचारियों और पेंशनर्स को फायदा होगा

0
  • Hindi News
  • Business
  • DA Hike | 7th Pay Commission Latest News: Narendra Modi Cabinet May Announce DA Hike For Employees

नई दिल्ली2 दिन पहले

दिवाली से पहले केंद्रीय कर्मचारियों को बड़ा तोहफा मिला है। गुरुवार को हुई केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में महंगाई भत्ता (DA) 3% बढ़ाने का फैसला लिया गया है। इस बढ़ोतरी के साथ DA 31% हो गया है। DA बढ़ने का फायदा एक करोड़ से ज्यादा केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनर्स को होगा।

इसके अलावा कुछ दिन पहले लॉन्च किए गए गति शक्ति प्रोजेक्ट को भी कैबिनेट की मंजूरी मिल गई है। केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कैबिनेट के फैसलों की जानकारी दी।

सरकार पर सालाना 9,488.70 करोड़ रुपए का खर्च आएगा
DA बढ़ाने के फैसले की जानकारी देते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘ऑल इंडिया कंज्यूमर प्राइज इंडेक्स फॉर इंडस्ट्रियल वर्क के आधार पर DA तय किया जाता है। केंद्र सरकार के कर्मचारियों को 1 जुलाई 2021 से महंगाई भत्ता और पेंशनर को महंगाई राहत में 3% की बढ़ोतरी की गई है। इस फैसले से 47 लाख 14 हजार केंद्र सरकार के कर्मचारी और 68 लाख 62 हजार पेंशनर्स को फायदा होगा। इससे सरकार पर सालाना 9,488.70 करोड़ रुपए का खर्च आएगा।’

PM गति शक्ति नेशनल मास्टर प्लान को मंजूरी
अनुराग ठाकुर ने कहा, ‘देश में PM गति शक्ति नेशनल मास्टर प्लान के क्रियान्वयन को मंजूरी दी गई, PM गति शक्ति नेशनल मास्टर प्लान की मॉनिटरिंग थ्री टियर सिस्टम में की जाएगी जिसकी कैबिनेट सचिव अध्यक्षता करेंगे। इनकी अध्यक्षता में एक सचिवों का एम्पावर ग्रुप ऑफ सेक्रेटरीज बनेगा।’

साल में दो बार बढ़ाई जाती है DA की दर
सातवें वेतन आयोग के तहत महंगाई भत्ते (DA) की दर आमतौर पर हर साल दो बार बढ़ाई जाती है। इसलिए, केंद्र सरकार के कर्मचारी सातवें वेतन आयोग के तहत DA दर में बढ़ोतरी की उम्मीद कर रहे थे। 7वें वेतन आयोग के तहत केंद्र सरकार के कर्मचारियों को वर्तमान में उनके मूल वेतन का 28% DA के रूप में मिलता है। इस बढ़ोतरी के बाद महंगाई भत्ता 31% हो गया है।

100 करोड़ टीकाकरण के आंकड़े की बधाई दी
केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कैबिनेट के फैसलों की जानकारी देते हुए कहा, ‘मैं 100 करोड़ टीकाकरण का आंकड़ा हासिल करने के लिए सभी को बधाई देता हूं। भय और भ्रम की स्थिति भी पैदा की गई, लेकिन इसके बावजूद भी लोगों ने आगे बढ़कर वैक्सीनेशन करवाया।’

Leave a Reply