पंजाब में कांग्रेसी सियासत: अमरिंदर के करीबी जिस कैप्टन संधू पर परगट सिंह ने लगाया था धमकाने का आरोप; उन्हीं के हक में की रैली

0

  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Congress Politics In Punjab, Captain Sandhu Close To Amarinder, Whom Pargat Singh Had Accused Of Intimidation; Rally In His Favor

जालंधर11 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

कैप्टन संदीप संधू के हक में रैली को संबोधित करते मंत्री परगट सिंह।

कैप्टन अमरिंदर सिंह को CM की कुर्सी से हटाने के बाद पंजाब में कांग्रेसी सियासत अजीबोगरीब रंग दिखा रही है। सबसे चर्चित मामला कैप्टन संदीप संधू और मंत्री परगट सिंह से जुड़ा है। संदीप संधू अमरिंदर सिंह के CM रहते उनके सलाहकार रहे हैं। वहीं परगट सिंह ने कैप्टन के खिलाफ मोर्चा खोल रखा था। तब परगट ने खुलेआम आरोप लगाया था कि कैप्टन संदीप संधू ने उन्हें धमकी दी। अब परगट उनके समर्थन में लुधियाना के दाखा विधानसभा क्षेत्र में रैली करने पहुंच गए।

अमरिंदर सिंह के CM रहते परगट सिंह ने ढाई साल से उनके खिलाफ मोर्चा खोले रखा। परगट ने कई पत्र लिखे और अमरिंदर के खिलाफ खुलकर बयानबाजी भी की। अमरिंदर के खिलाफ बगावत बढ़ने लगी तो परगट ने एक दिन यह कहकर चौंका दिया कि उन्हें धमकाया गया है। कैप्टन अमरिंदर सिंह के सलाहकार कैप्टन संदीप संधू ने उन्हें ठोकने की धमकी दी है। कैप्टन संधू को अमरिंदर का करीबी माना जाता था। हालांकि संधू ने तब कोई प्रतिक्रिया नहीं दी थी।

2 दिन पहले कैप्टन संधू अचानक डिप्टी सीएम रंधावा के साथ नजर आए

2 दिन पहले कैप्टन संधू अचानक डिप्टी सीएम रंधावा के साथ नजर आए

रंधावा के साथ आकर चौंकाया

अमरिंदर सिंह सीएम की कुर्सी से हटे तो संदीप संधू ने भी इस्तीफा दे दिया। सियासी चर्चा यह थी कि अमरिंदर सिंह के मुश्किल वक्त में संधू उनके साथ रहेंगे। खासकर, जब अमरिंदर नई पार्टी बनाने वाले हों। हालांकि दो दिन पहले संधू ने अचानक चौंका दिया। वह पंजाब के डिप्टी सीएम सुखजिंदर रंधावा के साथ प्रेस कान्फ्रेंस में नजर आ गए। हालांकि संधू ने वहां कुछ नहीं कहा। इसके बाद परगट सिंह उनके क्षेत्र में रैली करने पहुंच गए।

परगट ने अमरिंदर के करीबी रहने की बात कही तो संदीप संधू ने हाथ जोड़ दिए

परगट ने अमरिंदर के करीबी रहने की बात कही तो संदीप संधू ने हाथ जोड़ दिए

परगट ने इशारों में रैली का कारण बताया

परगट सिंह ने रैली में कहा कि कैप्टन संदीप संधू किसी सिस्टम में बंधे थे, इसलिए वैसी बात कहते थे। साफ तौर पर उनका अमरिंदर सिंह के सलाहकार होने का इशारा था। परगट ने कहा कि संधू का दिल भी पंजाब के लिए धड़कता था। कई बार सामने से कुछ और लगता है और होता कुछ है। उन्होंने संधू को कैप्टन अमरिंदर सिंह के ग्रुप से अपने ग्रुप में शामिल होने का कारण भी बता दिया।

अमरिंदर ने BJP का एजेंडा लागू किया

परगट यहां भी अमरिंदर पर निशाना साधने से नहीं चूके। उन्होंने कहा कि मैं ढाई साल से कह रहा हूं कि भाजपा के एजेंडे को अमरिंदर लागू करते हैं और सुखबीर बादल उसे सपोर्ट करते हैं। कृषि कानून बनाने में भी अमरिंदर और बादलों का हाथ है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply